ट्रेन के जनरल कोच में लावारिस बैगों के अंदर बंदूकें व कारतूसों के मिलने से – Rajdhani News24

Rajdhani News24

Latest Online Breaking News

ट्रेन के जनरल कोच में लावारिस बैगों के अंदर बंदूकें व कारतूसों के मिलने से

😊 Please Share This News 😊
कलाम कुरैशी मण्डल ब्यूरो चीफ झांसी

ट्रेन के जनरल कोच में लावारिस बैगों के अंदर बंदूकें व कारतूसों के मिलने से रेलवे विभाग में हड़कंप मच गया। झांसी बंदूकों व कारतूस मिलने से तमाम तरह की चर्चाओं ने बाजार गर्म कर दिया। इन हथियारों का कश्मीर कनेक्शन मिलने से मामला गम्भीर हो गया। हालांकि बाद में बैग में मिले सिक्योरिटी कंपनी के कार्ड व शस्त्र लाइसेंस से रेलवे पुलिस और आरपीएफ ने राहत की सास ली। इस मामले में रेलवे पुलिस ने दो नामजद और एक अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ शस्त्र अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया। वही, एसपी रेलवे मोहम्मद इमरान का कहना है कि मामले को गंभीरता से लेते हुए हैदराबाद और जम्मू कश्मीर की राजौरी पुलिस से संपर्क स्थापित किया जा रहा है। इस मामले में जांच शुरु हो गई है।
पुलिस अधीक्षक रेलवे मोहम्मद इमरान और रेल सुरक्षा बल के मंडल सुरक्षा आयुक्त आलोक कुमार, सीओ जीआरपी नईम खान मंसूरी के निर्देशन में ट्रेनों में चोरी, लूट की घटनाओं को रोकथाम व वांछित अपराधियों के खिलाफ अभियान चलाया जा रहा है। इसी अभियान के तहत रेलवे पुलिस और रेल सुरक्षा बल प्लेटफार्म पर आने वाली अप और डाउन से उतरने वाले संदिग्ध व्यक्ति को चैक कर रही थी ,तभी सूचना मिली कि हैदराबाद से चलकर हजरत निजामुद्दीन की ओर जा रही तेलंगाना एक्सप्रेस के जनरल कोच में दो लावारिस बैग रखे हैं। बैग में कुछ सामान भी रखा हुआ है। इस सूचना पर दोनों फोर्स सक्रिय हो गई। जैसे ही ट्रेन प्लेटफार्म पर आकर खड़ी हुई, तभी टीम के सदस्य जनरल कोच में गए और सीट के नीचे रखे दोनों लावारिस बैगों को कब्जे में ले लिया। इसके बाद कोच में सवार रेलयात्रियों से बैग के मामले में जानकारी ली मगर किसी ने जवाब नहीं दिया।
कोच से बाहर निकालकर बैग को खोला गया तो उसके अंदर बंदूक व कारतूस दिखाई दिए। यह दृश्य देख रेलवे पुलिस और रेल सुरक्षा बल की टीम के सदस्यों में हड़कंप मच गया। इसकी जानकारी दोनों फोर्स के स्टॉफ ने अफसरों को दी। इसके बाद दोनों बैगों को जीआरपी थाना लाया गया। यहां दोनों बैगों को खोलकर असलहों को चेक किया। एक बैग में तीन स्माल बट सिंगल बैरल तथा दो बड़े सिंगल बैरल गन मिली। साथ में 12 बोर के 23 कारतूस जिसमें 22 कारतूस जिंदा व एक कारतूस खोखा है। सभी असलहा नंबरी है। बैग में सिक्योरिटी कंपनी के दो कार्ड मिले। कार्डों की जांच की गई। पता चला कि यह कार्ड हैदराबाद में खुली यूनिवर्सल सिक्योरिटी सर्विस के हैं। रेलवे पुलिस के मुताबिक एक कार्ड पर मोहम्मद रफीक पुत्र मुस्ताक खान निवासी बारोवी पुलिस स्टेशन धर्मशाला जिला राजौरी जम्मू एंड कश्मीर व दूसरे कार्ड पर माजिद पुत्र सैय्यद बिन मोहम्मद निवासी जमाला पोस्ट जमाला जिला राजोरी जम्मू एंड कश्मीर लिखा हुआ था। इस मामले में जीआरपी पुलिस ने नामजद अभियुक्तों के खिलाफ दफा 30 शस्त्र अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया।

– एसपी रेलवे ने शुरू कराई जांच
एसपी रेलवे मोहम्मद इमरान का कहना है कि मामले को गंभीरता से लिया गया। बैग के अंदर सिक्योरिटी कंपनी के दो कार्ड मिले हैं। इस आधार पर हैदराबाद पुलिस व राजौरी पुलिस से संपर्क करने का प्रयास किया जा रहा है। उनका कहना है कि शस्त्रों का दुरुपयोग करने पर मुकदमा दर्ज कराया गया है।

-2017 में डोडा से जारी किए गए शस्त्र लाइसेंस
सूत्रों का कहना है कि इन असलहों के लाइसेंस 25 जुलाई 2017 को डोडा डीएम ने जारी किए थे। इन पर डीएम डोडा के हस्ताक्षर भी है। इस मामले में रेलवे पुलिस डोडा पुलिस अफसरों से संपर्क स्थापित करने का प्रयास कर रही है।

-इस टीम को मिली सफलता
आरपीएफ उपनिरीक्षक रविन्द्र सिंह राजावत, जीआरपी उपनिरीक्षक गजराज सिंह, आरपीएफ मुख्य आरक्षक अतुल कुमार, आरक्षक डी एस मीणा, आरक्षक राकेश कुमार मीणा, सुरेन्द्र कुमार विष्ट व जीआरपी आरक्षक आलोक कुमार शामिल रहे हैं।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें 

स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे

Donate Now

[responsive-slider id=1466]

लाइव कैलेंडर

September 2021
M T W T F S S
 12345
6789101112
13141516171819
20212223242526
27282930  
error: Content is protected !!